33.7 C
Mumbai
Monday, September 21, 2020

भारत में कोरोनावायरस को फैलाने के लिए लॉकडाउन पर्याप्त नहीं हो सकता है: राजन

The lockdown in India, the largest such exercise in the world, may not be enough to contain the spread of the novel coronavirus in the country, former Reserve Bank of India Governor Raghuram Rajan has said. "This is a serious concern because not only does th…
More

    Latest Posts

    बिहार में सरकारी नौकरी, फिशरीज का कोर्स करने वाले सीधी बहाली के जरिये बनेंगे अधिकारी

    बिहार में इंडस्ट्रियल फिश एंड फिशरीज की पढ़ाई करने वाले छात्रों को सीधे अफसर (मत्स्य विकास पदाधिकारी) बनने का मौका मिलेगा। इससे न...

    PM किसान सम्मान निधि योजना में 110 करोड़ का घोटाला, 18 लोगों को किया गया अरेस्ट

    केंद्र सरकार के किसान सम्मान निधि योजना में एक बड़ा घोटाल सामने आया है. सरकार के इस स्कीम का लाभ कुछ ऐसे...

    खो गया है आपका पैन कार्ड? अब दोबारा कैसे पाएंगे और कितनी जेब ढीली करनी होगी, जानिए

    अक्सर PAN Card खो जाने पर लोग परेशान हो जाते हैं. आइए जानते हैं दोबारा पैन कार्ड प्राप्त करने के लिए क्या...

    बिहार चुनाव 2020: नीतीश कुमार के लिए युवा वोटर क्यों हैं बड़ी चुनौती

    बिहार के चुनावी मैदान में खलबली है. चुनावी महाबली अपने शुरूआती दांव आजमाने लगे हैं. एक दूसरे की ताकत को भांपा और...

    Coronavirus: खांसी, बुखार के साथ दिखे ये लक्षण तो तुरंत लेनी चाहिए डॉक्टर की सलाह

    कोरोना वायरस से बचने के लिए इसके लक्षणों को जानना बहुत जरूरी है. अमेरिका के डाक्टरों की मानें तो इन लक्षणों को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. आइए जानते हैं इस लक्षण के बारे में-

    Coronavirus : कोरोना के लक्षणों को लेकर अब नई-नई जानकारियां सामाने आने लगी हैं. खांसी अभी तक इस बीमारी के प्रमुख लक्षणों में से एक थी, लेकिन अमेरिका के डाक्टरों ने इसके लक्षणों में पाचन तंत्र में होने वाली दिक्कत को भी बताया है. यानि अगर पेट संबंधी दिक्कत महसूस होती है तो ये भी कोरोना वायरस की एक वजह हो सकती है.

    दुनियाभर के देश कोरोना वायरस से लड़ाई लड़ रहे हैं. कई देशों ने इसके लक्षणों के आधार पर इस वायरस की काट भी खोजने की दिशा में प्रयास शुरू कर दिए हैं. अमेरिका के कॉलेज ऑफ गैस्ट्रोएंट्रॉलजी के शोध करने वाले विशेषज्ञों ने इस वायरस के फैलने के कारणों की पहचान की है. इस संस्थान में काम करने वाले विशेषज्ञों का एक पैनल वुहान के कोरोना वायरस पर लगातार शोध कर रहा है.

    अभी तक के शोध से यह बात सामने आई है कि कोरोन वायरस में सांस संबंधी ही नहीं है बल्कि पाचन तंत्र से जुड़ी दिक्कत भी महसूस होती है. इसके लक्षण ठीक डायरिया जैसे ही बताए गए हैं. इस अमेरिकी संस्थान के प्रेसीडेंट डॉक्टर मार्क पोचपिन की मानें तो वुहान और इटली सहित अन्य जगहों से मिली जानकारी में यह बात सामने आई है कि कोरोना वायरस ने गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट यानि पाचन तंत्र को भी प्रभावित किया है.

    डाक्टरों का कहना है कि कोरोना वायरस के शुरुआती लक्षणों में डायरिया के भी लक्षण दिखाई दिए हैं. डाक्टरों की मानें तो बुखार और सांस संबंधी दिक्कतों के अलावा अन्य लक्षणों पर भी ध्यान देने की जरूरत है. शोध के मुताबिक वुहान में कोरोना वायरस के 200 मरीजों में से पचास फीसदी लोग ऐसे थे जिन्हें खांसी के साथ साथ डायरिया की भी समस्या हुई थी.

    इन बातों का रखें ध्यान

    बाथरूम को साफ रखें. उसके हैंडल और दरवाजों को भी साफ रखें. वायरस मल में भी पाया जाता है. बाथरूम जाने के बाद हाथों को अच्छी तरह से धोना चाहिए. खानपान को लेकर भी सजग रहने की जरुरत है.