3.2 C
New York
Thursday, January 21, 2021

समस्तीपुर: बेटे ने मारपीट कर पिता को सड़क किनारे फेंका, पुलिस ने अस्पताल में कराया भर्ती

समस्तीपुर/दलसिंहसराय :- दलसिंहसराय थाना क्षेत्र के केवटा गांव में दलसिंहसराय-विद्यापतिनगर सड़क मार्ग पर स्थित पेट्रोल पम्प के पास शुक्रवार की देर शाम एक वृद्ध लहूलुहान...

Latest Posts

बिहार चुनाव: पीएम मोदी बोले- अनुच्छेद 370 और कृषि संबंधी 3 कानूनों के फैसलों पर देश पीछे नहीं हटेगा | पढ़ें 10 बड़ी बातें

पीएम मोदी ने आज सासाराम, गया और भागलपुर में चुनावी रैलियों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने अनुच्छेद 370 और कृषि काननों समेत कई मुद्दों पर विपक्ष को निशाने पर लिया.

बिहार चुनाव: बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए की जीत सुनिश्चित करने का जिम्मा अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद उठा लिया है. इसी सिलसिले में उन्होंने आज से बिहार चुनाव प्रचार का आगाज कर दिया. पीएम मोदी ने आज सासाराम, गया और भागलपुर में चुनावी रैलियों को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने अनुच्छेद 370 और कृषि काननों समेत कई मुद्दों पर विपक्ष को निशाने पर लिया. पीएम के साथ मंच पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार भी मौजूद थे.

पीएम के संबोधन की 10 बड़ी बातें-

1- बिहार में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अनुच्छेद-370 और कृषि संबंधी तीन नये कानूनों पर कांग्रेस सहित विपक्ष के रुख की कड़ी आलोचना की और कहा कि देश अपने फैसलों से पीछे नहीं हटेगा. मोदी ने आरोप लगाया कि विरोधी दल जब किसानों के लिए कुछ कर नहीं पाए तो अब किसानों से लगातार झूठ बोलने में जुट गए हैं और आज कल ये लोग न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी)को लेकर अफवाहें फैला रहे हैं जबकि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) सरकार ने ही एमएसपी बढ़ाने की कार्रवाई की है.

2- उन्होंने कहा कि देश ने किसानों को बिचौलियों और दलालों से मुक्ति दिलाने का फैसला लिया तो ये बिचौलियों और दलालों के पक्ष में खुलकर मैदान में हैं. विपक्ष पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ”मंडी और न्यूनतम समर्थन मूल्य तो बहाना है, असल में दलालों और बिचौलियों को बचाना है.”

3- मोदी ने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले जब किसानों के बैंक खाते में सीधे पैसे देने का काम शुरू हुआ था, तब इन्होंने कैसा भ्रम फैलाया था. कांग्रेस पर परोक्ष प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि जब राफेल विमानों को खरीदा गया, तब भी ये बिचौलियों और दलालों की भाषा बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि यह एनडीए की ही सरकार है जिसने किसानों को लागत का डेढ़ गुना एमएसपी देने की सिफारिश लागू की और सरकारी खरीद केंद्र बनाने और सरकारी खरीद, दोनों पर बहुत जोर दिया.

4- कांग्रेस सहित विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जब ये लोग सरकार में थे, उसकी तुलना में बिहार में ही धान की सरकारी खरीद चार गुना और गेहूं की सरकार खरीद पांच गुना बढ़ी है. उन्होंने कहा, ” इनके पास आज तक इसका जवाब नहीं है कि जब इनकी सरकार थी तब एमएसपी पर फैसला क्यों नहीं लिया? उन्होंने कहा, ” जब-जब, बिचौलियों और दलालों पर चोट की जाती है, तब-तब ये तिलमिला जाते हैं, बौखला जाते हैं. आज हालत ये हो गई है कि ये लोग भारत को कमजोर करने की साजिश रच रहे लोगों का साथ देने से भी नहीं हिचकिचाते.”

5- प्रधानमंत्री ने कहा, ”जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटने का इंतजार देश बरसों से कर रहा था? ये फैसला हमने लिया, एनडीए की सरकार ने लिया.” उन्होंने विपक्ष पर आरोप लगाया कि आज ये लोग इस फैसले को पलटने की बात कर रहे हैं और ये कह रहे हैं कि सत्ता में आए तो अनुच्छेद -370 फिर लागू कर देंगे. मोदी ने कहा, ”मैं जवानों और किसानों की भूमि बिहार से कहना चाहता हूं कि ये लोग जिसकी चाहें मदद ले लें लेकिन देश अपने फैसलों से पीछे नहीं हटेगा.”

6- बिहार के लोगों को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नीत पूर्ववर्ती बिहार सरकार के शासनकाल की याद दिलाते हुए मोदी ने कहा कि बिहार के लोग भूल नहीं सकते वो दिन जब सूरज ढलते का मतलब होता था, सब कुछ बंद हो जाना, ठप्प पड़ जाना. उन्होंने कहा कि उन दिनों सरकार चलाने वालों की निगरानी में दिन-दहाड़े डकैती होती थी, हत्याएं होती थीं, रंगदारी वसूली जाती थी. मोदी ने कहा कि आज बिजली है, सड़के हैं, लाइटें हैं और सबसे बड़ी बात वो माहौल है जिसमें राज्य का सामान्य नागरिक बिना डरे रह सकता है, जी सकता है और अंधेरे से उजाले की ओर बढ़ना इसी को कहते हैं.

7- राजद नेता तेजस्वी यादव के 10 लाख नौकरियों के वादे पर सवाल उठाते हुए मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने एक-एक सरकारी नौकरी को हमेशा लाखों-करोड़ों रुपये कमाने का जरिया माना, वो फिर बढ़ते हुए बिहार को ललचाई नजरों से देख रहे हैं. मोदी ने कहा, ”आज बिहार में पीढ़ी भले बदल गई हो, लेकिन बिहार के नौजवानों को ये याद रखना है कि बिहार को इतनी मुश्किलों में डालने वाले कौन थे?”

8- विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि बिहार वो स्थान है जहां लोकतंत्र के बीज बोए गए थे. क्या जंगलराज में कभी भी विकास और लोकतांत्रिक मूल्य फल-फूल सकते हैं? उन्होंने कहा, ”बिहार भ्रष्टाचार मुक्त शासन का हकदार है. इसे कौन सुनिश्चित करेगा? खुद भ्रष्टाचार में लिप्त लोग या भ्रष्टाचारियों से लड़ने वाले लोग?

9- प्रधानमंत्री ने कहा कि अब एनडीए सरकार आदिवासी बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ, उनके लिए घर, उनके लिए रोजगार पर पूरा ध्यान दे रही है. मोदी ने कहा, ”एक बात जो बिहार के लोगों में बहुत अच्छी होती है, वो है उनकी स्पष्टता. वे किसी भ्रम में नहीं रहते.” उन्होंने कहा कि बिहार के लोगों ने मन बना लिया है, ठान लिया है कि जिनका इतिहास बिहार को बीमारू बनाने का है, उन्हें आसपास भी फटकने नहीं देंगे.

10- प्रधानमंत्री ने कहा कि जितने सर्वेक्षण हो रहे हैं, जितनी रिपोर्ट आ रही हैं, सभी में यही आ रहा है कि बिहार में फिर एक बार राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार बनने जा रही है.

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव तीन चरणों में, 28 अक्टूबर (71 सीटों), 3 नवंबर (94 सीटों) और 7 नवंबर (78 सीटों) को होगा. मतगणना 10 नवंबर को होगी.

Latest Posts

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.

Need Help? Chat with us