33.7 C
Mumbai
Monday, September 21, 2020

हरलाखी विधानसभा के युवा नेता चंदन साह को भाजपा प्रदेश में मिला जगह

मधुबनी/नितीश कुमार मधवापुर : प्रखंड के बासुकी बिहारी उतरी पंचायत के चंदन कुमार साह को भाजपा में व्यापर प्रकोष्ठ...
More

    Latest Posts

    बिहार में सरकारी नौकरी, फिशरीज का कोर्स करने वाले सीधी बहाली के जरिये बनेंगे अधिकारी

    बिहार में इंडस्ट्रियल फिश एंड फिशरीज की पढ़ाई करने वाले छात्रों को सीधे अफसर (मत्स्य विकास पदाधिकारी) बनने का मौका मिलेगा। इससे न...

    PM किसान सम्मान निधि योजना में 110 करोड़ का घोटाला, 18 लोगों को किया गया अरेस्ट

    केंद्र सरकार के किसान सम्मान निधि योजना में एक बड़ा घोटाल सामने आया है. सरकार के इस स्कीम का लाभ कुछ ऐसे...

    खो गया है आपका पैन कार्ड? अब दोबारा कैसे पाएंगे और कितनी जेब ढीली करनी होगी, जानिए

    अक्सर PAN Card खो जाने पर लोग परेशान हो जाते हैं. आइए जानते हैं दोबारा पैन कार्ड प्राप्त करने के लिए क्या...

    बिहार चुनाव 2020: नीतीश कुमार के लिए युवा वोटर क्यों हैं बड़ी चुनौती

    बिहार के चुनावी मैदान में खलबली है. चुनावी महाबली अपने शुरूआती दांव आजमाने लगे हैं. एक दूसरे की ताकत को भांपा और...

    बिहार में 16 अगस्त तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए लिया गया फैसला

    राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन 16 अगस्त तक बढ़ाने का फैसला लिया है.

    पटना: बिहार की नीतीश सरकार ने शहरी क्षेत्रों में 16 अगस्त तक लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया है. राज्य गृहमंत्रालय की तरफ से जारी गाइडलाइन के मुताबिक, राज्य मुख्यालय, जिला मुख्यालय, अनुमंडल, ब्लॉक और सभी मुनिसिपल एरिया में 1 अगस्त से 16 अगस्त तक पाबंदियां होंगी.

    इस दौरान सरकारी दफ्तर 50 फीसदी कर्मचारियों और अधिकारियों के साथ काम करेंगे. वाणिज्यिक और निजी कार्यालयों को 50 फीसदी कर्मचारियों के साथ खोला जाएगा. लॉकडाउन के दौरान जरूरी सेवाएं पहले की तरह ही चालू रहेंगी.

    बता दें कि राज्य में नाइट कर्फ्यू जारी रखने का फैसला लिया गया है. यानि रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक आवाजाही पर पाबंदियां होंगी.

    बता दें कि बिहार में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या में लगाता बढ़ोतरी हो रही है. राज्य में अब तक 48001 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं. इनमें से 31673 मरीज ठीक हो चुके हैं.

    16042 मरीजों का इलाज चल रहा है और 285 लोगों की मौत हुई है. बिहार में कोरोना मरीजों का रिकवरी प्रतिशत 65.98 है.